20-35 साल के युवाओं में तेजी से बढ़ रही हैं ये 5 खतरनाक बीमारियां, चिंतित हैं डॉक्टर्स और वैज्ञानिक

हैल्थ डेस्क : दुनिया के नक़्शे पर हिन्दुस्तान को युवाओं का देश कहा जाता है। इसकी वजह है कि यहां सबसे ज्यादा आबादी 35 साल के युवाओं की है। लेकिन पिछले कुछ सालों से देश में युवाओं की संख्या कम होती जा रही है। इसकी वजह है युवाओं में बढ़ती बीमारियां। दरअसल, भारत समेत दुनियाभर के युवाओं में पिछले आठ-दस सालों से कुछ गंभीर बीमारियां हो रही है। इस वजह से लाखों युवाओं की मृत्यु हो रही है। बीमारी की सबसे बड़ी वजह लाइफस्टाइल है। तो आइये जानते हैं ऐसी 5 खतरनाक बीमारियां जिससे आज का युवा जूझ रहा है –

हाई ब्लड प्रेशर
युवाओं में आजकल हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी तेजी से बढ़ रही है। यह जानकर ताज्जुब होगा कि हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी के 10 प्रतिशत मरीज की उम्र 30 साल से कम है। जबकि 35 प्रतिशत मरीजों की उम्र 40 साल से कम है। बता दें कि हाई ब्लड प्रेशर की प्रॉब्लम आगे चलकर बेहद खतरनाक हो जाती है। यह आगे चलकर हार्ट अटैक, कार्डियक अरेस्ट और स्ट्रोक जैसी जानलेवा बीमारियों का कारण बनता है। इस वजह से दुनियाभर के डॉक्टर और वैज्ञानिक चिंतित है। हाई ब्लड प्रेशर के बढ़ने की वजहों की बात करें तो एक्सरसाइज की कमी, तेल वाला खाना, देर रात तक जागना, घंटों बैठकर मोबाइल चलाना या टीवी देखना, मोटापा बढ़ना प्रमुख हैं।

विटामिन डी की कमी
एक शोध के मुताबिक युवाओं में विटामिन डी की कमी बढ़ती जा रही है। शहरों में रहने वाले युवाओं को ख़ास तौर पर समस्या है। बता दें कि विटामिन डी का सबसे बड़ा स्त्रोत सूरज की रोशनी है। लेकिन बड़े शहरों में युवा सूरज की इतनी रोशनी भी नहीं ले पाते हैं कि इस समस्या से निजात पा सके। विटामिन डी से हड्डियां काफी कमजोर हो जाती है। जिससे आगे चलकर हड्डी से जुड़ी बीमारी का बड़ा कारण बन सकती है। बता दें कि विटामिन डी की कमी से शुगर, हार्ट अटैक, दांतों की कमजोरी, अस्थमा जैसी बीमारियां घेर लेती है। ऐसे में बच्चों को टीवी और वीडियो गेम खिलाने की बजाय हलकी गुनगुनी धुप में घूमने को कहे।

कैंसर (Cancer)
कैंसर को दुनिया की सबसे खतरनाक बीमारी माना जाता है। इसने भारत में भी अपने पैर पसार लिए है। आज भारत में 100 से अधिक कैंसर पाए जाते हैं। इस खतरनाक बीमारी से मरने वालों में 25 प्रतिशत लोगों की उम्र 40-45 साल की होती है। यह आनुवंशिक बीमारी भी है। लेकिन इसकी सबसे बड़ी लोगों की बदली हुई लाइफ स्टाइल और खाने पीने की चीजों की अशुद्धता है। आज ब्रेस्ट कैंसर, सर्वाइकल कैंसर और पुरुष मुंह के कैंसर, टेस्टिकुलर कैंसर, गले के कैंसर से मरने वालों की संख्या भारत में बढ़ती जा रही है।

नपुंसकता
युवाओं में बढ़ती नपुंसकता भी दुनियाभर के डॉक्टरों और वैज्ञानिकों के लिए चिंता का विषय बना हुआ है। पिछले कुछ सालों से युवाओं के स्पर्म घटने और स्पर्म की क्वालिटी खराब से प्रजनन क्षमता घट गई है। रिसर्च का मानना है कि ख़राब खानपान, हानिकारक कैमिकल्स और तत्वों की मिलावट इसका बड़ा कारण है। वहीं नींद की कमी भी इसकी बड़ी वजह है।

लिवर के रोग
आज की भागमभाग दुनिया में जंक फूड्स, पैकेटबंद फूड्स से युवाओं में लिवर की बीमारियां बढ़ गई है। एल्कोहल के सेवन से भी यह प्रॉब्लम्स बढ़ रही है। जो कि वैज्ञानिकों के चिंता का विषय है।

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *