कश्मीर में फोन इंटरनेट सेवा आंशिक रूप से बहाल, जुमे की नमाज के लिए दी गई ढील

डेस्क। आर्टिकल 370 ख़त्म करने बाद शुक्रवार को जम्मू कश्मीर में फोन और इंटरनेट सेवा आंशिक रूप से बहाल कर दी गई। पिछले पांच दिनों से राज्य में सिक्योरिटी लॉकडाउन के बीच फोन और इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई थीं। श्रीनगर की जामा मस्जिद के बाहर काफी संख्या में सुरक्षकर्मी तैनात थे। इसलिए शहर की मुख्य मस्जिद में नमाज की सम्भावना कम है। हालाँकि सैन्य अफसरों का कहना है कि शहर में स्थित विभिन्न छोटी मस्जिदों में नमाज के लिए ढील दे गई है। इसके लिए बड़ी संख्या में जवानों को तैनात किया गया है।

अफसरों का यह भी कहना है कि यदि नमाज बिना किसी हंगामे के हो जाती है तो इसमें और ढील दी जा सकती है। गौरतलब है कि कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री मेहबूबा मुफ़्ती, उमर अब्दुल्ला समेत 400 से अधिक नेताओं को हिरासत में रखा गया है। कल यहाँ राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने भी सुरक्षा का जायजा लिया था। इस दौरान उन्होंने लोगों को जुमे की नमाज और अगले सप्ताह ईद के लिए पाबंदियों में ढील दिए जाने का भरोसा दिलाया था। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत भी सुरक्षा व्यवस्था का जायजा ले चुके हैं।

उधर गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आर्टिकल 370 हटाने के बाद पहली बार देश को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने जम्मू-कश्मीर के लोगों को 12 अगस्त को ईद मनाने का पूरा भरोसा दिलाया था। उन्होंने लोगों से कहा था कि सरकार लोगों को हरसंभव मदद मुहैया करा रही है।

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *